उमरिया: प्रभारी मंत्री ने संत रविदास जयंती से शुरू होने वाली विकास यात्रा के तैयारियों की समीक्षा की

Umaria MP News: विकास यात्रा का उद्देश्य जन कल्याण, सुराज के लक्ष्य को प्राप्त करना तथा छूटे हुए पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करना है।

विकास यात्रा का उद्देश्य जन कल्याण, सुराज के लक्ष्य को प्राप्त करना तथा छूटे हुए पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करना है। विकास यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान तथा अन्य योजनाओं से लाभान्वित हितग्राहियों को प्राप्त लाभों का सत्यापन एवं उनका प्रस्तुतीकरण करने के साथ ही विकास गतिविधियों की जानकारी आम जनता को दी जाएगी। विकास यात्रा का नेतृत्व संबंधित क्षेत्र के विधायक करेंगे।

विकास यात्रा में सभी खण्ड स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहेंगे। संबंधित क्षेत्र के उपखण्ड स्तरीय अधिकारी अपने विभाग के नोडल अधिकारी होंगे। विकास यात्रा को व्यवस्थित रूप से संपन्न कराने हेतु समन्वय अधिकारी नियुक्त किए जायेगे तथा जिला स्तरीय अधिकारी को रूट प्रभारी बनाया जाएगा।

यह निर्देश प्रदेश के आयुष मंत्री स्वतंत्र प्रभार एवं जल संसाधन विभाग तथा जिला प्रभारी मंत्री श्री राम किशोर कांवरे ने कलेक्टर सभागार में आयोजित विकास यात्रा तैयारी की समीक्षा बैठक के दौरान दिए। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष अनुजा पटेल, विधायक श्री बांधवगढ़ शिवनारायण सिंह, दिलीप पाण्डेय, अपर कलेक्टर मिशा सिंह, सीईओ जिला पंचायत इला तिवारी, वनमण्डलाधिकारी मोहित सूद, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतिपाल सिंह, सहित जिला पंचायत सदस्य, जनपद पंचायतों के अध्यक्ष, नगरीय निकायों के अध्यक्ष एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

प्रभारी मंत्री श्री कांवरे ने कहा कि विकास यात्रा के लिए ग्राम पंचायतवार फोल्डर तैयार किए जाएं, जिसमें शासन के विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं से लाभान्वित हितग्राहियों का विवरण हो, इसके साथ ही मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के माध्यम से लाभान्वित किए जा रहे हितग्राहियों की सूची भी रखी जाए। विकास यात्रा के दौरान प्राप्त होने वाले आवेदनों का त्वरित निराकरण सुनिश्चित किया जाए। जिस तिथि को विकास यात्रा जहां से प्रारंभ होगी और जहां जाएगी, उन स्थलों का नाम, समय, कार्यक्रम के स्वरूप आदि की जानकारी भी तैयार की जाए। विकास यात्रा में जन अभियान परिषद की भूमिका रहेगी। पंचायत स्तर पर पंचायत सचिव, रोजगार सहायक तथा समन्वय अधिकारी का दायित्व होगा कि योजनाओं से प्राप्त होने वाले हितग्राहियों का रजिस्टर तैयार करे।

सभी कार्यक्रमों का निर्धारण संबंधित क्षेत्र के विधायक से समन्वय कर किया जाए। यात्रा का प्रारंभ 5 फरवरी को संत रविदास जयंती से किया जाएगा। इस अवसर पर आयुष विभाग द्वारा स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिए कि विकास यात्रा के समन्वय अधिकारी पंचायत सचिवों , रोजगार सहायक के साथ ही विभिन्न विभागों के मैदानी अमले को विकास यात्रा के उद्देश्यों की जानकारी दी जाए तथा उन्हें प्रशिक्षित किया जाए।

अपर कलेक्टर मिशा सिंह ने बताया कि विकास यात्रा के लिए नगरीय क्षेत्रों के लिए अपर कलेक्टर तथा ग्रामीण क्षेत्रों के लिए सीईओ जिला पंचायत नोडल अधिकारी होगे। विकास यात्रा 5 फरवरी से प्रारंभ होकर 25 फरवरी तक आयोजित की जाएगी। इस दौरान कोई शासकीय सेवक बिना अवकाष स्वीकृत कराएं मुख्यालय से बाहर नही रहेगा। सीईओ जिला पंचायत ने बताया कि विकास यात्रा में भाग लेने वाले, जानकारी तैयार करने वाले तथा समन्वय अधिकारियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। ग्राम पंचायतवार लाभान्वित हितग्राहियों की सूची तैयार की जा जरी है। एसडीएम मानपुर नेहा सोनी तथा एसडीएम बांधवगढ़ सिद्धार्थ पटेल द्वारा विकास यात्रा के निर्धारित रूट चार्ट एवं वे स्थान जहां कार्यक्रम आयोजित किए जायेगे की जानकारी दी गई।

Show Full Article
Next Story
Share it